शेखपुरा का 13 वर्षीय शशांक बनेगा अमेरिकी कंपनी में CEO

शेखपुरा का 13 वर्षीय शशांक बनेगा अमेरिकी कंपनी में CEO

217
0
SHARE
गूगल ब्यॉय शशांक (फोटो सौजन्य)

कहते है प्रतिभा किसी उम्र, राज्य या देश की सीमाओं का मोहताज नहीं होता है. एक बार फिर बिहारी प्रतिभा ने वैश्विक पटल अपना लोहा मनवाया है.

बिहार के शेखपुरा जिले के रहने वाले 13 वर्षीय शशांक ने गूगल में कई एंड्रॉयड ऐप को डेवलप कर यह कारनामा दिखाया है.

शशंका की उम्र महज 13 साल है. इस उम्र में मोबाइल के 50 हजार से अधिक यूजर वाले ऐप बनाकर मां-बाप के साथ-साथ जिले और बिहार को गौरवांवित किया है. इस प्रतिभा का ही कमाल है कि अमेरिका की एक कंपनी गुड पीपुल वेंचर्स ने 51 प्रतिशत शेयर देकर कंपनी का सीईओ बनाया है.

शेखपुरा जिले के बरबीघा थाना क्षेत्र अंतर्गत मिशन ओपी के निकट एक हाई स्कूल की क्लर्क संयुक्ता देवी की तेरह वर्षीय शशांक अचानक सुर्खियों में आ गया. शशांक नौवीं कक्षा का छात्र है. इतने कम उम्र में ही कई ऐप को बना डाला है. विश्व स्तर पर कई सर्टिफिकेट भी प्राप्त किया है. गूगल का एसोसिएट एंड्रॉयड डेवलपर सर्टिफिकेट पाने वाला कम उम्र का विश्व का दूसरा शख्स है.

शशांक कम्प्यूटर के जरिए ब्रह्मांड के रहस्य को खोजना चाहता है. अमेरिकी कंपनी में सीईओ बनाए जाने पर खुशी जताते हुए शशांक ने कहा कि इसके लिए कोई ट्रेनिंग नहीं ली बल्कि मोबाइल से ही इंटरनेट के द्वारा आज इस मुकाम पर पहुंचा है.

अपने बेटे की सफलता पर उसकी मां भावुक हो गई. शशांक की मां ने बताया कि बचपन से ही पढ़ाई के बाद मोबाइल से खेलने की आदत थी और उसी खेल ने आज उसे इस मुकाम पर पहुंचाया है.