रायन स्कूल को CBSE का नोटिस, पूछा-मान्यता क्यों रद्द नहीं की जाए

    261
    0
    SHARE
    CAMPUSJOSH

    रायन स्कूल के छात्र प्रद्युम्न की हत्या के बाद स्कूल का मुआयना करने गई CBSE टीम ने जांच में पाया कि स्कूल सुरक्षा से जुड़े किसी भी मापदंड का पालन नहीं कर रहा था. CBSE की रिपोर्ट तैयार होने के बाद रायन स्कूल को इन सारी बातों को लेकर नोटिस जारी किया गया.

    नोटिस में रायन स्कूल से पूछा है कि क्यों न उसकी मान्यता रद्द की जाए. सूत्रों के मुताबिक जब टीम ने स्कूल का दौरा किया था तो बड़े स्तर पर वहां खामियां पाई गई थी जिसको रिपोर्ट में शामिल किया जाएगा.

    क्या हैं CBSE गाइडलाइन

    रायन स्कूल ने CBSE की ज्यादातर गाइडलाइंस को पूरा नहीं किया था जो कि सीबीएसई हर साल स्कूल में बच्चों की सुरक्षा को लेकर जारी करती है. इससे पहले सीबीएसई ने 2014, 2015, 2016, 2017 में ये गाइडलाइन जारी की है.

    क्या खामी थी रायन की व्यवस्था में

    सबसे बड़ी खामी ये पाई गई है कि स्कूल में जो टायलेट था उसे स्टाफ और बच्चे दोनों इस्तेमाल कर रहे थे. जबकि स्टाफ के लिए अलग से टॉयलेट स्कूल बिल्डिंग के बाहर होना चाहिए.इसके अलावा ज्यादातर स्टाफ का पुलिस वेरिफिकेशन नहीं था, प्रिंसिपल परमानेंट नहीं था, बहुत कम संख्या में सीसीटीवी कैमरे स्कूल में काम कर रहे थेऔर बहुत छोटी बाउंडरी वाल थी.

    इन गाइडलाइन के मुताबिक

    1-स्कूल में सारे स्टाफ का वेरिफिकेशन होना चाहिए
    2-सारे स्टाफ की मानसिक जांच होनी चाहिए कि उनकी मनोस्थिति ठीक है
    3-स्कूल में हर जरूरी जगह सीसीटीवी कैमरे होने चाहिए और वे सक्रिय होने चाहिए
    4-बस में सीसीटीवी होने चाहिए
    5-पेरेंट टीचर मीटिंग की कमेटी होना चाहिए
    6-स्कूल का सिक्योरिटी आॅडिट होना चाहिए
    7-स्टाफ और बच्चों का टॉयलेट अलग-अलग होना चाहिए
    8-स्कूल की उचित चारदरीवारी होनी चाहिए जो कि ऊंची और तारों से घिरी हुई हो
    9-हर एंट्री और एग्जिट प्वाइंट पर गार्ड होने चाहिए